How to be Happy? The Pursuit of Happiness

How to be Happy? The pursuit of Happiness, खुश कैसे रहे? खुशी की तलाश करना कैसे शिखे? लोग खुश कब होते हे? जब उनके साथ कुछ अच्छा होता हे, उनकी कोई ख्वाइश पूरी होती हे, ख़ुशी का कोई रास्ता नहीं हे, ख़ुशी वही एक रास्ता हे.

How to be Happy? What is the Pursuit of Happiness?

हम खुद ख़ुशी को postponed करते रहते हे, जैसे जब में नया मकान खरीदूंगा तब खुश होऊंगा, मुझे नयी job मिलेगी तब में खुश होऊंगा, में नयी car/bike खरीदूंगा तब में खुश होऊंगा, जब मुझे अच्छा life partner मिल जाएगा तब में खुश होऊंगा, इस तरह से हम एक goal set कर लेते हे और happiness को postponed करते रहते हे और जैसे ही set किया गया goal पूरा हो जाता हे, वैसे ही दूसरा goal set हो जाता हे.

happiness

हमे एक बात समजने की जरुरत हे की happiness कुछ हासल करने में नहीं हे लेकिन हर पल में हे, ख़ुशी एक decision हे जो हमे लेना हे.

यदि हम एक बार यह तय कर लेंगे की कैसी भी situation होगी लेकिन में खुश रहूँगा या खुश रहूंगी तो बाहर की कोई चीजे हमे दुखी नहीं कर सकेगी फिर भले ही वह हमारे जीवनसाथी का व्यवहार होगा, हमारे boss का व्यवहार होगा, traffic की समस्या होगी,ऐसी कोई भी situation होगी वह हमे परेशान नहीं कर पाएगी.

हमारे control में क्या हे?

3 चीजे – जो चीज हम सोचते हे, जो हम कल्पना करते हे(imagine) और जो action हम लेते हे, हम बाहर की कोई चीज पर control नहीं कर सकते लेकिन हमारे अन्दर की यह 3 चीज पर हम जरुर control कर सकते हे, happiness को जो सबसे ज्यादा प्रभावित करता हे वह हे Thought और Imagination.

जानिए वह 6 प्रकार के लोग कौन से हे जो हमेशा दुखी(Sad) जीवन जीते हे 

हम वह चीज को खोजने का प्रयत्न करते हे जो हमारे पास नहीं हे लेकिन जो हमारे पास पहले से हे हम उसे नहीं देखते, कम से कम हमारे देश में तो यह problem नहीं होना चाहिए क्युकी यहाँ कई लोग ऐसे हे जिन्हें एक time का खाना भी नशीब नहीं होता,उनको रहने के लिए घर नहीं हे,पहनने के लिए कपड़े नहीं हे और बहुत कम पैसो में अपना गुजारा करना पड़ता हे,यदि हम हमारी comparison उनके साथ करेंगे तो उनके साथ हमारी समस्या कुछ भी नहीं हे,इसलिए हमे happiness छोटी छोटी चीजो में खोजनी चाहिए,इसलिए यदि हमे सही मायने में जीना हे तो happy रहने का निर्णय हमे खुद लेना पड़ेगा फिर भले जीवन में insecurity होगी, समस्याए होगी, relation break होगा, लेकिन फिर भी हमे खुश रहने का decision लेना पड़ेगा.

हम life हमेशा शर्तो पर जीते हे, Materialist चीजो में ख़ुशी नहीं हे, Italy का वह holiday हमारे relation में ख़ुशी नहीं लाएगा यदि हम वहा जानेसे पहले खुश नहीं होंगे.

यदि हम नयी गाडी Audi, BMW, Mercedes, Ferrari लाये फिर भी हमे वह ख़ुशी नहीं देगी यदि हम उसे लानेसे पहले खुश नहीं होंगे,हां वह थोड़े दिनों के लिए उत्साह जरुर लाएगा,लेकिन जैसे ही हमारा पड़ोसी या हमारा कोई friend हमसे अच्छी गाडी लायेगा तब वह भी खतम हो जाएगा.

Gurdjieff के Magical Inspiring Words

कुछ चीजे हमे free में मिली हे लेकिन उसे हम नजर अंदाज कर लेते हे, life की हरेक movement में happiness हे, श्वास लेने में भी ख़ुशी हे,यदि हम physically fit होंगे तो वह भी एक ख़ुशी हे, क्युकी हम देखे तो दुनिया में ऐसे कई लोग होते हे जिनके हाथ-पैर नहीं होते, आँखे नहीं होती, तो यह हे ना ख़ुशी की बात, बस हमे हमारा नजरिया बदलने की जरुरत हे.

यदि हमारी आँखे ठीक होगी और हम चीजो को number वाली चस्मा पहनकर देखेंगे तो चीजे हमे धुंधली दिखेगी, clear नहीं दिखेगी, ऐसा इसलिए होगा क्युकी मेरा देखने का नजरिया सही नहीं हे, Happiness हमेशा वहा हे ही, बस हमे हमारे देखने का नजरिया बदलना पड़ेगा.

यदि हम हमारी life में सुकून, happiness, शांति चाहते हे तो उसका रास्ता भी हमारे पास से ही गुजरता हे, जीतना बेहतर हम हमारी life को लेकर हमारा नजरिया develop करेंगे, जीतने हम satisfied रहेंगे, जीतनी हम हमारे अन्दर शांति लाने का प्रयास करेंगे, हमारी सोच को बदलेंगे तब हमारी सोच हमारी वास्तविकता बदलेगी, जिस तरह की चीजे हम सोचेंगे,उस तरह की चीजे हमारे जीवन में होती जायेगी.

जानिये कैसे बनता हे दृष्टिकोण(Attitude) और फिर कैसे बदलता हे

Foundation of Happiness हमारे भीतर से आना चाहिए फिर हम उसे अलग अलग चीजो से बढ़ा सकेंगे,हमे खुदको एक सवाल पूछना चाहिए, में मेरे जीवन में क्या चाहता हु? और जब हमे इस सवाल का जवाब मिल जाएगा तब हम सही मायने में ख़ुशी को प्राप्त कर सकेंगे,हम सभी की अनुभूति प्राप्त करना चाहते लेकिन खुदके साथ अनुभूति प्राप्त करने की link नहीं जोड़ पाते,हम खुदको महसूस नहीं कर सकते.

आभारी होना

हमारे जीवन की शुरुआत thank you-gratitute से करनी चाहिए,मेरे पास बहुत हे,हमे आभारी होना पड़ेगा, example के तोर पर यदि हमारी गाडी traffic single पर खड़ी रहे और कोई भिखारी वहा आकर काच का दरवाजा खटखटाए,हम उसे 5 रूपये दे और वह हम से यह कहे की यह काफी नहीं हे बहुत कम हे तो हमे यह लगेगा की लाओ इससे यह 5 रूपये भी वापस ले लेता हु, यह same connection हमारा universe के साथ भी हे, जब जब भी हम ऐसा कहते रहते हे की यह काफी नहीं हे, यह सही नहीं हे,तब वह जीवन में ज्यादा बरोबर प्राप्त करने के लिए योग्य नहीं हे, इसे Law of Attraction भी कहा जाता हे, तो जब हम जो देंगे वही हमे प्राप्त होगा, double हो जाएगा.

कर्मचारियों के प्रकार और उनको Motivate करने के अनोखे तरीके 

यह wi-fi system जैसा चलता हे, internet के wi-fi system जैसा(यह हमारे emotions का wi-fi system होता हे) और इस पर काफी research भी हुआ हे.

यदि हम happy होंगे, अपने आप के साथ अंदर से connect होंगे तो हम दुसरो को भी happy रख सकेंगे और यदि हम अंदर से खाली होंगे तो दुसरो को भी happiness नहीं दे सकेंगे.

हरेक व्यक्ति की happiness की परिभाषा अलग अलग होती हे,दुनिया की हरेक व्यक्ति अलग अलग चीजो में happiness को खोजता हे,हमे हमारी ख़ुशी की defination को तैयार करना होगा, की हमारी happiness की defication क्या हे? जैसे Mark Zuckerberg की defination Facebook को launch करना थी, Mother Teresa की defination Calcutta में रहकर गरीब बच्चो की सेवा करना थी,वैसे हरेक की defination अलग अलग होती हे.

हमारे Goal, Value, Desire क्या हे? हमारे पास समय कितना हे? हमारे पास skill कौनसी हे? हमारी limitations क्या हे? हमे इन सबको ध्यान में रखना पड़ेगा और इन सबको ध्यान में रखकर हमे अच्छे से अच्छा रास्ता खोजना पड़ेगा, इसके बावजूद में क्या प्राप्त कर सकता हु और कौनसी चीज मुझे ख़ुशी देगी,हमारी life हमेशा अपनी शर्तो पर जीना आसान नहीं होता, family, life, social pressure की वजह से आसान नहीं होता इसलिए यदि कोई house wife होगी और उसे painting का शौक होगा तो उसे सभी काम होने के बावजूद उसमे से थोडा समय निकालकर, time management कर समय देना पड़ेगा,सबकुछ नहीं मिलेगा लेकिन best ultimate क्या हे उसे खोजना पड़ेगा.

लोगो के लिए प्रोत्साहन(Encouragement) का क्या महत्व हे?

हम किसी के लिए कुछ करते हे,उसका कोई काम करते हे,उसको खुश करते हे तो हम भी सामने से यह आशा रखते हे की वह भी हमारे लिए कुछ करेगा,हमे खुश करेगा, तो यह genuine नहीं हे transation हे और जब हमे वापस नहीं मिलेगा तब हम उदाश हो जायेंगे,इसलिए जब भी हम किसी को कुछ देते हे,किसी की life में कुछ contribute करते हे तब उससे किसी भी चीज की अपेक्षा नहीं रखनी चाहिए,क्युकी वह जरुर मिलेगा, अभी नहीं तो फिर कभी,यह universal law भी हे(law of attraction),जरुरी नहीं हे की वही व्यक्ति के पास से जिसके लिए हमने कुछ किया हे,उसके जीवन में कुछ योगदान दिया हे,लेकिन दुसरे किसी व्यक्ति हे पास से,दुसरे किसी समय पर जरुर मिलेगा,इसलिए यदि किसी के लिए हम कुछ करते हे तो बदले की अपेक्षा नहीं रखनी चाहिए.

हमारी ख़ुशी किसी पर depended नहीं होनी चाहिए, जैसे किसी ने कुछ कहा, हमारी प्रसंसा की, तारीफ की और इसकी वजह से में खुश होऊंगा, तो हम हर बार निराश होंगे.

Way to happiness

दुसरे की process में हम हमारी happiness को खो देते हे, लेकिन हमे एक बात को ध्यान में रखना पड़ेगा की यदि हम खुश नहीं होंगे तो हम दुसरो को खुश नहीं रख सकेंगे और इसके लिए हमे खुदके लिए भी थोडा समय रखना पड़ेगा,यदि हमारी ख़ुशी fake होगी तो हम खुश नहीं होंगे और यदि ऐसे समय हम दुसरो को खुश करना चाहेंगे तो हम दोनों तरफ से failure हे,खुद तो खुश नहीं रह पायेंगे और साथ साथ दुसरो को भी ख़ुशी नहीं दे सकेंगे.

हम balance किस तरह रख सकते हे?

हमे जीवन की हरेक पल को जीना चाहिए,हरेक पल में ख़ुशी खोजनी चाहिए,हमे हमारे दिल के साथ अन्दर से connect रहना चाहिए,यदि हम खुद दुखी होकर दुसरो को खुश करना चाहते हे तो यह कोई balance नहीं हे,इससे विस्फोट होगा,हमारे अन्दर negative feeling आयगी,ऐसा relation खास होता हे,संबंध में एक व्यक्ति अपनी ख़ुशी को दबाकर दुसरो को खुश रखना चाहते हे और साथ साथ उसके पास से प्रसंसा, तारीफ की अपेक्षा भी रखते हे और जब ऐसा नहीं होगा तो वह खुश नहीं रख सकेगा और जो अन्दर से खुश नहीं रह सकेगा उस relation में ज्यादा problems आयेंगे,इसका solution यह हे की हमे यह खोजना की हमारी challenges क्या हे,मुझे किस चीज में ख़ुशी मिलती हे और फिर उसको maintain करना पड़ेगा.

Hard Work के बिना खुछ नहीं मिलता-Never Gain Without Pain

यदि ऐसा मान लिया जाए की मेरे पास 1000 रूपये नहीं हे और में किसी को देना चाहू तो में उसको दे नहीं सकूँगा,यह एक simple चीज हे,हम वह चीज किसी को नहीं दे सकेंगे जो हमारे पास नहीं होगी,इसलिए यदि हमारे पास ख़ुशी नहीं होगी तो हम किसी को नहीं दे सकेंगे,इसलिए हमे replacement की यह cycle को ध्यान में रखने की जरुरत हे.

यदि हम ख़ुशी(Happiness) को हमारे जीवन का भाग बनाना चाहते हे तो 2-3 चीजो को हमारे जीवन का भाग बनाना पड़ेगा.

1) Gratitude-Thankful

यदि हम कही पर जा रहे हो,हमे जल्दी हो और road पर traffic हो, तो हां यह हे, लेकिन इससे भी खराब हो सकता था, यह कम हे, हा मुझे इतना ही मिला, लेकिन इससे भी कम मिल सकता था, यदि हमारी health में problem होगी, तो हां यह हे, लेकिन इससे भी खराब हो सकता था, हमे यह नजरिया रखना पड़ेगा.

2) छोटी छोटी चीजो में ख़ुशी खोजना 

छोटी छोटी चीजे जैसे किसी friend, family member का साथ, कागज़ पर किसी चीज का painting कर, घरमे कुछ coock कर, music-dance को enjoy कर, nature को enjoy कर, इन सभी चीजो में बड़ा खर्चा नहीं होता हे, example के तोर पर यदि चाय पीते पीते बातचीत करने में भी हमे आनंद मिल जाए तो इसमें खर्च केवल 1 चाय का ही हे, यदि किसी भूखे बच्चे को खाना खिलाने में या उसे chocolate खिलाने में हमे आनंद मिल जाए तो उसमे खर्च केवल खाने का या 1 chocolate का ही हे,यदि हम एकबार happy रहने का decision ले लेंगे तो ख़ुशी हमे मिलने लगेगी.

3) Challenges Set करना 

Challenges अलग अलग हो सकती हे Social, Make Home, Improve Relation, Complite Project etc, इसमें कोई रूकावट नहीं आनी चाहिए और हमे हमारे अन्दर के बालक को जिन्दा रखना चाहिए, life को ज्यादा serous नहीं ले लेना चाहिए, education, business, administration, industries और ऐसी हरेक जगह पर ऐसा मानने में आता हे की,जो आदमी ज्यादा serious होता हे वह ज्यादा काम करता हे,जो गुस्से में बैठा हो वह ज्यादा काम करता हे,यह बहुत बड़ी misunderstanding हे, Teacher यदि अपने students के साथ थोडा friendly रहेंगे तो class का वातावरण थोडा अच्छा रहेगा, Office में यदि boss थोडा friendly रहेगा तो वहा का environment थोडा अलग ही होगा ,यदि माता-पिता अपने बालक के साथ थोड़े opend up होंगे तो घर का वातावरण भी बदलेगा, इसीलिए Life को ज्यादा serious नहीं लेना चाहिए.

इन सब में Action का बहुत ज्यादा important हे, सिर्फ सोचने से, Planning करने से कुछ नहीं होगा, Action लेने से जीवन बदल जाएगा.

यदि आपको How to be Happy? और Happiness से सम्बन्धित यह बाते पसंद आई हो तो Please इसे Social Sites-Facebook, Google+, Linkedin, Twitter और Whatsapp पर Share जरुर करे.

 

 

(Visited 47 times, 1 visits today)