INDIA TV Chairman,Chief Editor Mr. Rajat Sharma success story Hindi में

Mr. Rajat Sharma Success Story-आज हम छोटा मोटा काम करते हे,या कोई Job करते हे और उससे satisfied हो जाते हे,और सोचते हे की जीवन तो कट ही रहा हे,जीवनमे कुछ बड़ा नहीं सोचते,और इसीमे ही खुश रहते हे,दिन में काम करके आते हे और रात को खाना खाकर सो जाते हे,कितने लोग तो ऐसे भी होते हे जो खुद ही अपनी जिंदगी का ढंडेरा पीटते हे की “मेरे लिए बस इतना ही काफी हे,में इसमें ही खुश  हु” आपने भी काफी लोगोको यह कहते हुए सुना होगा.

Rajat Sharma

कितने लोग होते हे वह गरीबी में ही पैदा होते हे,पलटे हे और गरीबी में ही मर जाते हे लेकिन दोस्तों गरीबी में पैदा होना कोई बुरी बात नहीं हे क्योकि यह हमारे हाथमे नहीं हे हम इसका चुनाव नहीं कर शकते,लेकिन गरीबी में ही मरना यह बहुत बड़ी बात हे क्युकी यह तो हमारे ही हाथ में हे की कैसे हमारा जीवन बनाया जाये,तो My friends बड़े सपने देखिये और उसे हासिल करनेके लिए लगन और ईमानदारी से मेहनत करें तो हमे Success जरूर मिलेगी ही.

ऐसा ही एक उदाहरण हे “INDIA TV News Channels Chairman-Chief Editor and Aap Ki Adalat Host Mr. Rajat Sharma”.

Rajat Sharma का जन्म भी एक गरीब परिवार में हुआ था,उनके 7 भाई,1 बहन,बीमार माँ,बीमार पिता वह सब एक 10 X 10 के छोटेसे कमरे मे एकसाथ रहते थे,उस समय उनके घरमे पानी और बिजली की भी व्यवस्था नहीं थी,उनका कमरा बहुत छोटा था तो रातको सोते वक्त सब लोग उसमे समां नहीं पाते थे, इसके लिए उनके कमरे में एक के ऊपर एक तख्ते लगाए हुए थे उन पर वह सब सोते थे,नहाने(bath) के लिए उनको अपनी गली में लगाए हुए नल पर जाना पड़ता था क्युकी घर में तो नल था नहीं,वह वही सड़क पर नहाते थे और 2 बाल्टी पानी  अपने घर लाते थे,अपनी बहन और माँ के लिए,वह Municipality School में पढ़ते थे और घरमे बिजली नहीं होनेकी वजह से Railway Station के नजदीक रहे Street Light के निचे रातको पढ़ते थे,वह बताते हे की उन दिनों उनकी आर्थिक हालत इतनी कमजोर थी की उनको पिनेके लिए दूध भी नहीं मिलता था,वह दूध के Powder को गर्म पानी में डालकर वह पीते थे,खाना मिला तो ठीक वरना भूखे पेट ही सोना पड़ता था.

एक घटना जिसने बदल दिया उनका जीवन

उस जमाने में घरमे TV होना मतलब बहोत बड़ी बात मानी जाती थी,Television बहोत ही कम घरोमे हुआ करती थी मतलब की 100 घरोमे से 1 में,उनके घरमे तो Television था नहीं लेकिन उनके Neighbor के घरमे TV था जहां सारे मोहल्ले के लोग टेलीविज़न देखने आते थे,और वह भी टेलीविज़न देखने वहां जाते थे,एक दिन क्या हुआ की वह जब Sahid Bhagat Singh की Movie देखने पड़ोसी के घर गए तो वह जैसे ही दरवाजे पर पहुंचे की पड़ोसिनें दरवाजा अंदर से बंध कर दिया,वह जब दुखी मन से घर लौटे तो उनके पिताजी ने उनको देखा और उनसे पूछा की क्या हुआ? तो उन्होंने पूरी बात बताई यह सुनकर उनके पिताजीने उनसे कहा की “तुम किसी दूसरे के घर किसी तीसरे की फिल्म देखने क्यों जाते हो,तुम कुछ ऐसा करो की तुम TV पर आओ और लोग तुम्हे देखने के लिए आये”.

इसी सपने को अपने मन में संजोए Rajat Sharma ने जीवनमे आने वाली हर परेशानी का सामना कर सच्ची मेहनत और लगन से आगे बढ़ते गए,उन्होंने  M.Com(Master of Commerce) की पढ़ाई की और कई जगह पर छोटी मोटी Job की,13 March 1992 में उन्होंने Zee TV के Mr. Subhash Chandra से मिलकर ‘Aap Ki Adalat’ नाम का show start किया यह show बहुत ही हिट हुआ और इस show की वजह से रजत शर्मा को बहोत प्रसिद्धि मिली और उनको बहोत तारीफ़ भी मिली इसके बाद उन्होंने दुबारा कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा,यह सॉ आज भी चल रहा हे और बहोत famous भी हे,हर कोई फिर चाहे वह Actor हो,Politician हो सब इस show पर आना चाहते हे,2004 में उन्होंने अपना खुदका News Channel जिसका नाम हे India TV चालू किया,धीरे धीरे यह News Channel बहोत popular हुआ और India में देखे जाने वाले सबसे ज्यादा News Channel में शामिल हुआ.

आपको यह post कैसी लगी? अगर अच्छी लगी हो तो please इसे अपने friends और relatives के साथ share करना न भूले और निचे comment box में comment जरूर करें

(Visited 93 times, 1 visits today)