Oyo Rooms founder Ritesh Agarwal’s Inspirational Story

Ritesh Agarwal from Sim seller to Oyo Rooms, की यह Journey बहुत ही Interesting हे, यह किसी Film की Story से कम नहीं हे,उन्होंने यह साबित कर दिखाया हे की सिर्फ MBA की Degree और Corporate Job के अनुभवी लोग ही Business में सफल नहीं होते लेकिन कम पढ़े लोग भी Business में बहुत उचाई तक जा शकते हे,अपनी मेहनत और अपने Passion के बल पर उन्होंने केवल 17 साल की उम्र में Collage Dropout कर बिना किसी आर्थिक सहयोग से शुरू किये अपने Business को खूब उचाई पर पहुंचा कर यह सोच को बदल दिया हे,आज उनकी Age बहुत कम हे और उनका Business करोड़ो का हे.

Ritesh Agarwal

Ritesh Agarwal Odisha के हे, उन्होंने बचपन में ही अपने Future की तलास में अपना Hometown छोड़ दिया था,वह 2011 में Delhi आये थे और यहासे उन्होंने Entrepreneur Journey की शुरुआत की थी.

Ritesh Agarwal कभी Engineer बनना चाहते थे,लेकिन उन्होंने अपनी पढ़ाई बीचमे ही छोड़ दी क्युकी उनका सपना कुछ और था,और वह उसे पूरा करने मे लग गए Oyo Rooms एक ऐसा Start Up हे जो किसी ऐसे व्यक्ति द्वारा चलाया जाने Start up हे जिसने School से ज्यादा पढ़ाई न की हो.

Ritesh Agarwal को थोड़ा किस्मत का साथ मिला लेकिन बिना मेहनत के कुछ नहीं मिलता  

Ritesh Agarwal का जीवन एक छोटीसी घटना से बदल गया जो उनके साथ घटी जब उनके Delhi स्थित घर का Interlock लग जाने की वजह से वह बाहर ही फस गए और उन्हें मजबूरी में रात को सोनेके लिए Hotel खोजने जाना पड़ा तब उन्हें इस बात का एहसास हुआ की लोगो को जरूरत  के वक्त ढंग का Hotel खोजना कितना मुश्किल हे,वह जब Hotel खोजने गए तो उन्होंने देखा  की Receptionist सो रहा हे,किसी Hotel में बिस्तर खराब हे तो कहिपे Bathroom और Toilet की हालत बदतर हे,और जहां उन्हें थोड़ी बेहतर सुविधा मिली वहां Card से Payment  करने की सुविधा नहीं थी,उसदिन उन्हें यह एहसास हुआ की India में अच्छे Hotel और Room किफायती दाम में क्यों नहीं मिल शकते? और यहिसे उनको Oyo Rooms का ख्याल आया.

Nic Vujicic-Neither Arms No Legs

एक जमाने मे वह Sim Card बेचा करते थे और उन्हें एक बात का डर लगा रहता था की कहि उनके परिवार वालो को उनके  Eentrepreneur बनने के संघर्सो का पता चला तो वह उन्हें अपने घर Odisha न बुला ले क्युकी वह उस समय Kota में रह रहे थे और IIT(Indian Institute of Technology) की Exams की तैयारी कर रहे थे,लेकिन अपने सपने को एक मुकाम देनेके लिए वह हर Weekend Delhi आ जाते थे.

थोड़े कदम आगे बढ़ाने पड़ेंगे

2011 में जब Ritesh Agarwal 18 साल के थे तब उन्होंने Oraval Stays नाम का Hotel Retail Start-up शुरू किया था,जो अब Oyo Rooms का रूप ले चूका हे और इसी नाम से Famous हो चुका हे,उन्होंने Oyo Rooms की शुरुआत June 2013 में 60 हजार के निवेश से की थी,उनकी Firm ने ऐसी Hotels से सम्पर्क साधा जिनका Market में कोई नाम नहीं था, उनके मालिकों के साथ Meeting कर उन्हें उनकी होटलों में सुविधाएं बढ़ाने और अपने Hotel Staff को Training देकर Train करने को कहा.

Oyo ने ऐसी Hotels की Branding उठाने का बेडा उठाया जिसका Market में कोई नाम न था और धीरे धीरे यह होटलों का Market बढ़ गया,इस बिच Ritesh Agarwal ने एक ऐसा App भी बनाया जिसके जरिए लोग अपनी पसंद और Budget का Room Book कर शके.

Charlie Chapline Life Struggle Story

Ritesh यह बताते हे की जब उन्होंने Oyo की शुरुआत की थी और वह लोगो को यह बताते थे की Technique का उपयोग Hotel का Market Value बढ़ाने के लिए किया जा शकता हे तब कोई उनकी बात पर विस्वास करने को तैयार नहीं था,आखिर कार Gudgav(Haryana) की एक Hotel से शुरुआत हुयी और उस होटल में Ritesh ही Manager, Receptionist और Staff था, Ritesh रात में बैठकर अपने App के लिए Code लिखता और उसको बेहतर बनाने के लिए उसपर काम करता,धीरे धीरे Team बनी,काम बढ़ता गया और हमारा यह Unique काम लोगोको पसंद आने लगा.

Trishneet Arora’s Motivational Story

आज यह Firm India में 199 Cities की 6500+ Hotels के साथ जुडी हुई हे, January 2013 में इसके पास 1 Property थी, June 2013 में 3 Properties, July 2014 में 13 Properties और अब इसे पास 6500+ Properties हे, यह Company को 100 Million American Dollar यानिकि 636 करोड़ रूपये की Funding मिल चुकी हे, Ritesh का नाम Forbes ’30 under 30′ in the consumer tech sector में हे,वह ऐसे First resident Asian to win Thiel Fellowship 2013 हे,उनको TATA First Dot Powered by NEN Awards की तरफ से Top 50 Entrepreneurs in 2013 भी मिला हे,ऐसे बहुत Awards हे जिनसे उनको सन्मानित किया गया हे.

Mrs.Chanda Kochhar’s Inspiratinal Story

Ritesh Agarwal का यह कहना हे की सफल होने के लिए Hard Work के अलावा  कोई और दूसरा रास्ता नहीं हे और आप जो Problems Solve करने मे लगे हुए हो उसके प्रति आप Passionate होने चाहिए,किसी भी चीज में सिर्फ ऊपर छल्ली न रहे किन्तु Deep End तक जाए,आपको अपने Customer और Business Partner के Problems समझने चाहिए और ऐसी Product बनानी चाहिए जो उनकी जरुरियातो को संतोषे.

Conclusion

Ritesh Agarwal ने यह साबित कर दिखाया हे की आदमी को अपनी Life मे आगे बढ़ने के लिए,अपने सपनों को पूरा करने के लिए ज्यादा Education की जरुरत नहीं हे,उम्र से भी कुछ फर्क नहीं पड़ता, बस जरुरत हे बिना आश छोड़े हर कठिनाई का सामना कर,उत्साह के साथ लगे रहना,मेहनत करते रहना,एक दिन सफलता आपका रास्ता खोजते हुए आपके पास जरुर आएगी.

 

(Visited 46 times, 1 visits today)