19 Spiritual Inspirational Quotes of Swami Vivekananda

Spiritual Inspirational Quotes of स्वामी विवेकानंद(Swami Vivekananda), जो एक विख्यात और प्रभावशाली आध्यात्मिक गुरु थे, जो संत रामकृष्ण परमहंस के मुख्य शिष्य थे, जिन्होंने रामकृष्ण मिशन की स्थापना की, जो साहित्य, दर्शन, इतिहास के प्रकन्द विद्वान् थे और जिन्होंने योग-राजयोग और ज्ञानयोग जैसे ग्रंथो की रचना कर युवा पीढ़ी को एक नहीं राह दिखाई.

Spiritual Inspirational Quotes

19 Spiritual Inspirational Quotes of Swami Vivekananda

1) यदि में खराब कार्य करूंगा तो उसका फल मुझे भुगतना ही पड़ेगा, ठीक उसी तरह यदि में कोई सत्कार्य करूंगा तो विश्व की कोई शक्ति मुझे उसका शुभ फल मिलने से नहीं रोक सकेगी.

2) संसार में उस तरह से कार्य करना चाहिए जैसे आप विदेशी(foreigner) हे और यहा दो दिन के लिए ही आये हे,खुदको बंधन में नहीं डालना चाहिए.

3) कर्मयोग(Karma yoga) का अर्थ हे सामने मृत्यु होने के बावजूद किसी भी प्रकार का तर्क वितर्क किये बिना सबकी सहायता करना.

4) गीता का मुख्य मंत्र हे लगातार कार्य करते रहना, उसमे आसक्ति नहीं लाना, आसक्ति तब आती हे जब हम बदले की भावना रखते हे.

5) मनुष्य की सहायता के द्वारा इश्वर की उपासाना करना हमारा परम सौभाग्य हे.

6) दुसरे की सहायता करने का अर्थ हे,आप अपने आप की सहायता कर रहे हे.

7) गृहस्थ का मुख्य कर्तव्य हे प्रमाणिकता से पैसे कमाना और यह याद रखना की आपका जीवन इश्वर की सेवा और गरीबो के लिए हे.

8) हम संसार के ऋणी हे, संसार हमारा ऋणी नहीं हे, गरीब लोगो की सहाय, बीमार लोगो की सेवा और अज्ञान को दूर करना हमारा कर्तव्य हे.

9) जो मनुष्य किसी को भी नुकशान पहुचाने का नहीं सोचता हे, वह सही अर्थ में एक भक्त(devotee) और योगी(yogi) हे.

अटल विस्वास(faith) से विजय प्राप्त होती हे 

दान पुण्य(charity) का फल हमे अवश्य मिलता हे

Om meaning और उसके health benefits

God is great-तर्क और विचारो से पर होती हे उसकी शक्ति 

10) जो मनुष्य विधवाओ को और अनाथो को धोखा देता हे और उनके साथ पैसो के लिए खराब कार्य करता हे वह पशु(animal) से भी अधम हे.

11) इस दुनिया में सभी भेदभाव किसी स्तर के हे, ना की प्रकार के, क्युकी सभी चीजो का रहस्य हे ‘एकता(unity)’.

12) अध्यात्मिक ज्ञान के विस्तार से मनुष्य जाती की सबसे अधिक सेवा की जा सकती हे

13) हम जो हमारे चारो और दुःख, झगडे वगैरह देखते हे उसका एक ही कारन हे, अज्ञान(ignorance). ध्यान रखे मनुष्य का एक मात्र लक्ष्य हे और वह हे ज्ञान प्राप्ति.

14) ज्ञान का दान या विद्या दान, भोजन और वस्त्रदान से भी श्रेष्ठ हे, क्युकी अज्ञान मृत्यु के समान हे और ज्ञान जीवन हे.

15) हमारे आसपास के लोगो की निंदा और प्रसंसा से बिना प्रभावित हुए हमेशा अच्छे कार्य करते रहना वही सबसे बड़ा त्याग हे.

16) कर्म के फल की इच्छा रखने से हमारे आध्यात्मिक(spiritual) प्रगति के मार्ग में रूकावट आती हे.

17) निःस्वार्थ भावना से किये गये कार्य ज्यादा फलदायक होते हे, लेकिन लोगो के पास ऐसा करने के लिए धैर्य नहीं हे.

18) हमारी उन्नति(advancement) के लिए एक मात्र उपाय यह हे की हम पहले वह कर्तव्य निभाए जो हमारे हाथ में हे.

19) एक अच्छे चरित्र का निर्माण हजारो ठोकरों खाने के बाद ही होता हे.

If you like this Spiritual Inspirational Quotes then please share it on social media.

 

 

 

(Visited 49 times, 1 visits today)