Trust in God: जो होता हे अच्छे के लिए होता हे

Trust in God: भगवान पर भरोसा रखे…

trust in god

हममे से कई लोग जब हमारा सोचा हुआ कार्य नहीं होता तब भगवान से फरियाद करते हे, भगवान आपने यह क्या किया? आपने ऐसा क्यों किया? वगैरह वगैरह.

ऐसी ही एक मजेदार story हे एक आदमी की.

उसका दिन बहुत खराब गया, वह रात को भगवान से फरियाद करने लगा,

उसने भगवान को कहा: यदि आप गुस्सा नहीं होंगे तो में आपको एक प्रश्न पूछता हु.

भगवान ने कहा: तुमको जो पूछना हे वह पूछो.

वह आदमी ने पूछा: भगवान, आज आपने मेरा पूरा दिन खराब क्यों किया?

भगवान हँसे और उस आदमी से पूछा: क्यों क्या हुआ?

आदमी ने कहा: मुझे आज सुबह जल्दी उठाना था, मैंने रात को alarm रखा, लेकिन वह बजा नहीं और मुझे उठने में देरी हो गई.

भगवान ने कहा: ठीक हे और…

आदमी ने कहा: late उठने की वजह से मुझे देरी हो रही थी और उसमे मेरी bike खराब हो गई, में एक किलोमीटर पैदल चलकर गया तब मुझे जैसे तैसे करके एक auto मिला.

भगवान ने कहा: ठीक हे और…

आदमी ने कहा: में आज office tiffin नहीं ले गया था, canteen बंध था, एक sandwich खाकर दिन निकालना पड़ा, वह भी खराब था.

आदमी की फरियादे सुनकर भगवान केवल हंसते रहे, आदमी यहाँ पर ही नहीं रुका लेकिन उसने अपनी फरियादे जारी रखी.

आदमी: आज मेरा एक important phone call आया था और मेरा phone बंध हो गया.

भगवान ने पूछा: ठीक हे और…

आदमी में कहा: आज पूरा दिन परेशान हो गया था, सोचा की घर जल्दी जाकर AC चलाकर सो जाऊ, लेकिन में जब घर पंहुचा तब light नहीं थी, भगवान, यह सारी तकलीफे मुझे क्यों दी? मेरे साथ आपने ऐसा क्यों किया?

भगवान ने कहा: अब मेरी बात शांति से सुनो, आज तुम्हारे साथ बहुत बुरा होने वाला था, मैंने उसे होने से रोका, alarm बजे ही नहीं ऐसा किया, bike से accident होने का भय था इसलिए bike मैंने खराब की, canteen का खाने से तुम्हे food poison हो जाता, phone पर बड़े काम की बात करने वाला वह आदमी froud था, वह तुम्हे किसी बड़े घोटाले में फसा देता इसलिए मैंने तुम्हारा phone खराब किया, तुम्हारे घर पर शाम को आग लग जाती और तुम AC में आराम से सोये रहते, तुम्हे पता ही नहीं चलता और तुम्हारा आग में स्वाहा हो जाता, इसलिए मैंने light बंध की, में हूँ ना, तुम्हे बचाने के लिए ही मैंने यह सब किया हे.

आदमी ने कहा: भगवान मुझे माफ़ कर दो, मुझसे बहोत बड़ी गलती हो गयी, में आज के बाद आपसे कोई फरियाद नहीं करूंगा.

भगवान बोले: माफ़ी मांगने की कोई जरुरत नहीं हे, लेकिन विश्वास रख की, में हु!, में जो करूँगा, में जो planning करूँगा वह तुम्हारे भले के लिए ही होगा, life में जो भी अच्छा बुरा होगा उसका सही ख्याल लम्बे समय के बाद ही आएगा की जो हुआ वह सही हुआ,  मेरे किसी कार्य पर शंका मत कर, मुज पर श्रद्धा(faith) रख, जीवन का सारा बोज अपने शिर पर लेकर घुमने के बजाय मेरे कंधे पर रख दे, Main Hoon Na, So trust in god.

Trust in God- जो होगा वह अच्छे के लिए होगा!!!

ऐसी ही एक real story हे जो मैंने देखि हे और में यहाँ आपके साथ वह share करना चाहूँगा.

एक आदमी था, जो एक textile company में एक सामन्य job कर रहा था, वह daily train में updown करता था, एक दिन वह चलती train से निचे गिर गया, उसके पैर में काफी चोट आई और वह एक पैर से अपाहिज हो गया, वह बिना काम के बेरोजगार घर पर बैठा हुआ था और हररोज भगवान पर दोष लगा रहा था, भगवान यह तूने क्या किया, एक दिन उसने news paper में एक job की ad देखि, GNFC(Gujarat State Fertilizers & Chemicals Ltd) Company की जिसमे एक vacancy थी जो केवल handicap person के लिए ही थी, उसने उसमे apply किया और उसकी job उसमे लग गयी.

मेरे शब्द ध्यान से पढिये, उसको job इस वजह से मिली क्युकी वह handicap था, आज उसकी salary हजारो में  हे और वह एक आराम की जिन्दगी जी रहा हे.

Trust in God, परेशानियों के आगे घुटने मत टेकिये, भगवान में विश्वास रखिये, वह जो करेंगे अच्छे के लिए करेंगे.

(Visited 112 times, 1 visits today)